Send Publishing Related Queries on : publisherbbp@gmail.com

EMAIL

info@bookbazooka.com

Call Now

+91-7844-918767

Biranchi Mohapatra

  • Home
  • Biranchi Mohapatra

Biranchi Mohapatra

बिरंचि महापात्र

तालचेर के प्रख्यात कवि विरंचि महापात्र के अद्यतन कविता-संग्रह "चकाड़ोला की ज्यामिति" को ‘प्रबंध-काव्य’ की श्रेणी में गिना जाए तो इस कथन में कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी। इस संग्रह में संकलित 68 कविताएं चकाड़ोला पर ही आधारित हैं। 'चकाडोला’ अर्थात् चक्र जैसी गोल आँखों की पुतलियाँ। राजस्थानी भाषा में डोला शब्द की जगह बोलचाल की भाषा में 'डोरा' शब्द का प्रयोग होता है। उदाहरण के तौर पर पराए धन या पराई स्त्री पर डोरे डालने का अर्थ उनकी तरफ ललचाई दृष्टि से देखना, राजस्थानी भाषा की एक लोकोक्ति का अर्थ है।